शुक्रवार, 11 अक्तूबर 2013

खलिश

17 comments















जाने कैसी खलिश है जिंदगी-ए-अहसास में 

'मन' की खामोशी में जानलेवा सा दर्द क्यूँ है !!





सु..मन 

गुरुवार, 3 अक्तूबर 2013

जाम-ए-हसरत

24 comments











जाम - ए - हसरत न रख ख़ाली ऐ साकी 
तमाशा-ए-जिंदगी का जश्न बाकी है अभी !!


सु..मन