गुरुवार, 3 अक्तूबर 2013

जाम-ए-हसरत

24 comments











जाम - ए - हसरत न रख ख़ाली ऐ साकी 
तमाशा-ए-जिंदगी का जश्न बाकी है अभी !!


सु..मन