गुरुवार, 10 सितंबर 2015

बेवक़्त हादसे

15 comments










मुक़र्रर है वक़्त हर चीज़ का लेकिन 
बेवक़्त हो जाया करते हैं हादसे जिंदगी में !!

सु-मन