मंगलवार, 18 अक्तूबर 2016

तुम और मैं -१


तुम बन जाना मेरी अंतिम साँस .......मैं तुम संग मृत्यु जी लूँगी !!

सु-मन 

5 comments:

Mohini Puranik ने कहा…

अति सुन्दर! अद्भुत भाव!

Dilbag Virk ने कहा…

आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 20-10-2016 को चर्चा मंच पर चर्चा - 2501 में दिया जाएगा
धन्यवाद

सु-मन (Suman Kapoor) ने कहा…

शुक्रिया मोहिनी जी

सु-मन (Suman Kapoor) ने कहा…

शुक्रिया दिलबाग जी

Onkar ने कहा…

बढ़िया

एक टिप्पणी भेजें