मंगलवार, 12 जून 2018

शबनमी ख्वाब

3 comments























देर रात चाँद सोता रहा पलकों तले
चाँदनी तेरे ख्वाब को शबनमी करती रही !!



सु-मन