शनिवार, 26 फ़रवरी 2011

तुम हो

31 comments

                               


              









मेरी हर साँस हर आस में तुम हो
क्या बताऊँ तुम्हें कि मेरी प्यास तुम हो
इन भीगी हुई पलकों की नमी तुम हो
मेरे वजूद में समाए बस तुम ही तुम हो !!


सु-मन