शुक्रवार, 13 जुलाई 2018

मोहलतें

7 comments





















मैंने ख़यालों में रखी हैं कुछ मोहलतें
तुम आकर रख जाना कुछ वक़्त मेरी ख़ातिर !!



सु-मन